Data Types in C Programming हिन्दी में पूरी जानकारी

इस आर्टिकल में हम data types in c programming के बारे में जानेगे कि इनका use कहाँ होता है और ये कितने प्रकार के होता है। C language एक प्रोग्रामिंग language है और ये सीखने में बहुत ही आसान है।
हमारे varible में किस तरह की value को स्टोर किया गया है ये बताने के लिए data types का प्रयोग होता है। जैसे: – integer , floating , character आदि।
Example : –
int res = 5;
इसमें res एक variable है पर हमें ये कौन बताएगा कि res variable में कौन सी वैल्यू स्टोर की गई है। ऊपर के उदाहरण में int हमें बताता है कि हमारे res variable में क्या वैल्यू स्टोर की गई है।
Integer का प्रयोग numberic वैल्यू के लिए होता है।
Floating को आप decimal वैल्यू भी कह सकते है। इसमें point ( . ) के बाद की वैल्यू होती है।
Character का प्रयोग single वैल्यू के लिए होती है। इसमें character का प्रयोग किया जाता है जैसे: – a , b , c , आदि।

Data types in C programming कितने प्रकार के होते है?

C language में Data type मुख्य रूप से 4 प्रकार के होते है।
1. Basic
2. Derived
3. Enumeration
4. Void
1. Basic Data Types
C Language में basic data types में integer और floating based वैल्यू ही स्टोर होती है।
जैसे:- int res =5;
इसमें res हमारा variable है और इसमें int हमारे data type को show करता है।
char b = ‘G’; यहाँ char हमें बताता है कि हमारे b variable में कोई character value को स्टोर किया गया है। अगर इसमें हम ‘G’ की जगह 5 डालते हैं तो ये उसको भी character मानेगा।
जैसे:- float b = 5.34;
यहाँ हमारे variable b में 5.34 वैल्यू स्टोर है। जो point वाली वैल्यू होती है उसके लिए float का इस्तेमाल होता है।
Signed में + और – दोनों वैल्यू स्टोर होती है जबकि unsigned में सिर्फ positive वैल्यू को ही स्टोर किया जाता है जो 0 से 255 होती है।
2. Derived data types
ये एक प्रकार के primary data टाइप होते हैं जिन्हे एक साथ grouped किया जाता है। आप एक जैसे similar data types को एक जगह group कर सकते है। सिम्पल भाषा में बेसिक डाटा टाइप्स जैसे integer , floating के ऊपर कुछ डाटा टाइप्स जैसे arrays , pointers को derived किया जाता है जिन्हे derived data types कहते है। C programming में इनका प्रयोग काफी किया जाता है। ये use करने में बहुत आसान होते हैं।
Arrays एक बॉक्स की लिस्ट होती है। Boxes के अंदर वैल्यू स्टोर होती है। वो वैल्यू कौन से टाइप की है ये हमें arrays बताता है।
Pointer हमें बताता है कि जो particular varible है उसकी exact location क्या होगी।
3. Enumeration
ये एक प्रकार के user define डाटा टाइप होते हैं। जब हम कोई प्रोग्राम बनाते हैं तो उसमें हम अपनी जरूरत के हिसाब से डाटा टाइप्स बनाते हैं। उदाहरण के लिए हमारे week days को हम number दे सकते हैं। जैसे monday को 1 , tuesday को 2. इन नंबर को हमें asign कर देना है ताकि week days को हम उनकी number वैल्यू से call कर सके। ये बहुत ही आसान है। इसके लिए बस हमें enum नाम का डाटा टाइप लिखना होता है और उसके बाद variable का नाम होता है।

C Language में Tokens क्या होते हैं What is tokens in c language in Hindi

HTML Editor क्या होता है? सबसे best HTML Editor कैसे चुने?

Learn HTML in Hindi- अब HTML सीखें सिर्फ 20 दिनों में
4. Void
जिस प्रकार हम integer के लिए int , character के लिए char वैल्यू देते हैं , उसी प्रकार हमें एक ऐसा डाटा types चाहिए जो खाली हो। उसमें कोई वैल्यू को स्टोर नहीं किया गया हो। Void एक ऐसा data type है जिसका खुद का कोई type नहीं होता।
Void is a empty data type that has no value.
इसका प्रयोग मुख्य रूप से 3 चीजों के लिए किया जाता है।
Function को void के रूप में return कराने के लिए- बिना रिटर्न वाले fuction में return टाइप शून्य ( void ) होता है।
यह किसी objects के address का represents करता है, लेकिन उसके टाइप्स को नहीं।
बिना perameter वाला function, void को स्वीकार कर सकता है।
Example:-
#include <stdio.h>
#include <conis.h>
void main( ) {
int num1, num2, result;
num1=2;
num2=3;
result =num1+num2;
printf ( “%”, result;
}
इस आर्टिकल में हमने data types in C programming के बारे में पढ़ा । अगर आपको डाटा टाइप्स से रिलेटेड कोई सवाल पूछना हो तो आप कमेन्ट करके पूछ सकते हो।

Add a Comment

Your email address will not be published.