SEO क्या होता है और अपने ब्लॉग पर कैसे use करें-हिंदी में

बहुत बड़ी-बड़ी कंपनियां जैसे amazon , flipkart जो अपने Proudct और servies online बेचने का काम करती है, वो करोड़ों रुपये सिर्फ SEO पर ख़र्च करती है. अगर आप एक ब्लॉगर हो या आपने अभी-अभी ब्लॉगिंग स्टार्ट की है तो Search Engine Optimization  नाम आपको बहुत बार दिखाई पड़ा होगा। जब तक आपको इसके बारे में सही-सही और पूरी जानकारी नहीं होगी, तब तक आपका ब्लॉग कामयाब नहीं हो सकता। आपने ब्लॉग को सर्च इंजन के रिजल्ट में दिखाने के लिए इसका ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है।SEO-Search Engine Optimization

अनुमान करें कि लोग प्रत्येक दिन कितने ब्लॉग पोस्ट प्रकाशित करते हैं।

Any Idea?

Ok, अकेले wordpress users हर दिन 2 मिलियन से अधिक पोस्ट प्रकाशित करते हैं। जो हर सेकंड में 24 ब्लॉग पोस्ट पर आता है।

इसका मतलब है कि जब तक आप ऊपर लिखी lines को पढ़ते हैं, तब तक wordpress users 216 ब्लॉग पोस्ट्स publish कर देते हैं।

और यह केवल वर्डप्रेस उपयोगकर्ताओं की गिनती है। यदि हम सभी ब्लॉग पोस्टों को गिनते हैं, तो निश्चित रूप से यह संख्या अधिक होगी।

ऐसे समय में अपने ब्लॉग के साथ कामयाब होना मुस्किल हो जाता है। लेकिन आपको किसी भी तरह अपने ब्लॉग को successful बनाना है।

जब मैं अक्सर अपने ब्लॉग पोस्ट लिखने में 4-5 घंटे बिताता हूं, तो प्रत्येक पोस्ट को अनुकूलित करने में जो दस मिनट मैं खर्च करता हूं, वह आसानी से सबसे महत्वपूर्ण होता है।

कोई आश्चर्य नहीं कि लाखों लोग प्रत्येक महीने Google शब्द “SEO” करते हैं।

किसी भी दिन, लोग 2.2 मिलियन से अधिक खोज करते हैं। और यह केवल Google पर है – अन्य खोज इंजनों में से कुछ भी नहीं कहने के लिए।

इसलिए, Google के मुख पृष्ठ पर दिखाना एक व्यवसाय के बीच निर्णायक कारक हो सकता है जो संपन्न और एक है, ठीक है, दिवालिया।

लेकिन SEO का क्या मतलब है?

आप शायद जानते हैं कि यह खोज इंजन अनुकूलन के लिए खड़ा है, लेकिन आपको अनुकूलन करने की क्या आवश्यकता है?

क्या यह डिजाइन है? या यह लेखन है? या शायद यह लिंक है।

हाँ, हाँ, और हाँ – यह सब और बहुत कुछ है।

What Is SEO

लेकिन इस SEO गाइड को शुरुआत से शुरू करते हैं।

Defnition: SEO की full form होती है-Search Engine Optimization, यानि किसी ब्लॉग content , प्रोडक्ट या किसी वेब पेज को सर्च इंजन के search result में दिखाना। ये search engine में Rank कराने की एक free की कला है जिसको organic listings के रूप में भी जाना जाता है।
अब इसको विस्तार से हिन्दी में समझते हैं।

Internal Linking के फायदे और Internal Linking करने का सही तरीका हिन्दी में

Keyword Cannibalization क्या है और ब्लॉग पर इसका पता कैसे लगाएं
Search engine optimization आपके online content को optimizing करने की process है ताकि सर्च इंजन इसको सर्च किए गए keyword के अनुसार top result में दिखा सके।
एसईओ वह जादू है जो आपको अपने लेख पर काम करने के लिए करना है ताकि जब भी कोई उस कीवर्ड को खोजता है तो google आपके पोस्ट को top result में शामिल कर सके।

Overview

अब हम एसईओ के बारें में खुलकर बात करेंगे। फिर भी आप अपनी इच्छा के अनुसार किसी भी टॉपिक पर क्लिक करके सीधा उस टॉपिक पर जा सकते हो।

अब बात करते हैं ये जादू दिखता कैसा है और ये इतना important क्यों है?
मैं आपको पहले ही बता चुका हूँ कि हम online जो भी करना चाहते है उसके लिए हम ज्यादातर search engine का ही सहारा लेते हैं। लगभग 75% लोग गूगल पर ही search करते हैं।
इस fact को भी जानते होंगे कि लगभग 70% क्लिक गूगल के सर्च मे दिखाए गए पहले 5 रिजल्ट पर ही होते हैं। अब आपको यह पता चल गया होगा कि Search engine optimization इतना important क्यों है।
पूरी दुनिया मे एक मज़ाक चल रहा है कि google के first पेज को hit करना कितना crucial है। यदि ब्लॉग, article या प्रोडक्ट गूगल के first पेज के अलावा किसी दूसरे या तीसरे पेज पर show हो रहा है तो ये Rank ना करने के बराबर है।
ये समझने के लिए कि Search engine के first पेज पर कंटेन्ट या प्रोडक्ट कैसे दिखाएं, आपको ये जानना होगा कि search इंजन काम कैसे करता है।

How Search Works:
Search engine को आप answer देने वाली मशीन भी कह सकते हो। सर्च इंजन अपने खुद के web crawlers का प्रयोग करके लाखों करोड़ों pages को crawling करने का काम करते हैं। इन web crawlers को आप search engine bots या spiders बोल सकते हो। एक सर्च इंजन वेब पेजों को डाउनलोड करके web पर navigate करता है और इन web pages पर दिए गए links को follow करके नए pages available करवाता है।

Youtube SEO: Video SEO Krke Search Me Top Rank Par Kaise Aayen
सर्च इंजन आपके सर्च करते ही लाखों करोड़ों content को खंगालते हैं और हजारों factors का मूल्यांकन करके वो content आपके सामने रखते हैं जो आपकी query का सबसे best जवाब होता है। Search engines ये सब काम “crawling and indexing” के द्वारा करते हैं।

SEO में क्या-क्या आता है ?

1.Keyword research-

Koi bhi post likhne se pahle aap best keyword ko search krke use kre. Best keyword use krne se site ki trafffic or income increase hoti h.

Keywords Kya Hai Aur Blog Post Me Par Inka Use Kahan Kre

Top Free 5 Keyword Research Tool Jrur Use Kre Hindi Detail

2.Paper work-

Koi bhi post likne se pahle aap uss post ke main keywords or points ko likhkr check krle taki baad me koi problem na aaye.
WordPress Blog Par SEO Friendly Post Kaise Likhe Hindi Help

3.Title keyword-

Apne keyword ko title me jrur use kre.Title me keyword use krne se search engine post ko fast index krta hai.

4.Meta tag use-

apne meta tag or meta description me keyword use kre. Search engine meta tag ko hi use krte hai ki apki post kis chiz ke baare me hai.

Black Hat Seo Aapke Blog Ko Kaise Barbaad Kar Skta Hai

White Hat SEO Kya Hota Hai Aur Blog Par Kaise Use Kre Full Hindi Details

5.Alt text-

Jab aap post me koi image dalte ho to alt text me keyword ya post title se relative word use kre.

6.Add related link-

Post likhte time post se related other post ke link bhi dalne chahiye.

7.Resize image-

Page ki loading speed ko km krne ke liye image ko upload krne se pahle resize krle.

8.comment on other sites-

apne blog se related topics se jude other blog pr comments kre taki apko vahan se backlinks mil ske.

Blog Commenting Krne Se Kya Kya Fayde Ho Sakte Hain

9.Share blog on social media-

post likhne ke baad apne blog ko fb,twitter aadi pr share kre taki apko traffic prapt ho ske.

ऊपर बताये गये तरीकों से आप SEO बड़ी ही आसानी से कर सकते हो.अगर आपको कुछ पुछना है तो आप कमेंट करें.आपके हर comment का जवाब आपको दिया जायेगा.

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *